मुंबई: शिवसेना और बीजेपी के रिश्ते किस हद तक बिकड़ चुके है आप शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के इस बयान से अंदाजा लगा सकते हैं। दरअसलस उद्धव ठाकरे ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया है।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि योगी भोगी हैं और उन्हें चप्पलों से पीटा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा के पापों को भले ही बाल ठाकरे ने सहन कर लिया हो, लेकिन वो ऐसा नहीं करेंगे।

महाराष्ट्र में बीजेपी से ‘दुश्मनी’ के बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भाषा की मर्यादा भी भूल बैठे। ठाकरे ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भोगी कहा। ठाकरे इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने कहा कि विरार में योगी को चप्पलों से पीटना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘ईश्वर के प्रतिरूप शिवाजी की प्रतिमा के सामने जाने से पहले खड़ाऊं उतारना उनके प्रति सम्मान जाहिर करना है और यह एक सामान्य प्रक्रिया है।’

ठाकरे ने आगे आदित्यनाथ पर हमला बोलते हुए कहा, ‘योगी ने ऐसा नहीं किया, उनसे और अपेक्षा भी क्या की जा सकती है।’ उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर भी निशाना साधा। पालघर लोकसभा सीट के लिए रैली में बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘बालासाहेब ने भाजपा के पापों को सहन किया। अब बहुत हो गया और मैं इसे आगे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करूंगा।’ हाल ही में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि शिवसेना वो पार्टी नहीं रही, जिसे बाल ठाकरे ने बनाया था।

इसपर उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘भाजपा भी अब वो पार्टी नहीं रही जो अटल बिहारी वाजपेयी ने बनाई थी। अब ये मोदी की भादपा हो गई है।’ बाल ठाकरे ने कहा कि आज की भाजपा में उन्हें हिंदुत्व के वो आदर्श नहीं दिखते जो पहले हुआ करते थे।