नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 3 देशों की यात्रा पर है. पीएम मोदी संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी पहुंच गए हैं. पीएम मोदी ने रविवार सुबह वॉर मेमोरियल वाहत अल करमा मेमोरियल में अमीराती सैनिकों को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद दुबई के ओपेरा हाउस पहुंचे. पीएम मोदी ओपेरा हाउस में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया. मोदी ने ओपेरा हाउस से से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अबू धाबी के पहले भव्य हिंदू मंदिर का शिलान्यास किया.

2020 तक मंदिर का निर्माण कार्य भी पूरा हो जाएगा-

बता दें कि बीआर शेट्टी ने मंदिर को बनाने की मुहिन छेड़ी हैं, जो जो अबू धाबी के जाने-माने भारतीय कारोबारी हैं. शेट्टी ‘यूएई एक्सचेंज’ नाम की कंपनी के एमडी और सीइओ हैं. वैसे तो मंदिर साल 2017 के आखिर तक बन कर तैयार हो जाना था लेकिन किन्हीं कारणों से इसमें देरी हुई. अब पीएम मोदी के दौरे और भूमिपूजन के बाद मंदिर की नींव रखी जाएगी और काम शुरू होगा. उम्मीद है 2020 तक मंदिर का निर्माण कार्य भी पूरा हो जाएगा.

hindu-temple

बताया जा रहा है कि दुबई के प्रथम हिंदू मंदिर में भगवान कृष्ण, शिव और अयप्पा की मूर्तियां होंगी. अयप्पा को विष्णु का एक अवतार बताया जाता है और दक्षिण भारत खासकर केरल में इनकी पूजा होती है. बता दें कि दुबई में दो मंदिर और एक गुरुद्वारा जरूर है, लेकिन अबू धाबी में कोई भी मंदिर नहीं है. गौरतलब है कि यूएइ में करीब 30 लाख भारतीय समुदाय के लोग रहते हैं.

पीएम मोदी के भाषण की मुख्य बातें-

हमारा नाता सिर्फ कारोबार का नहीं, सहयोग का है.

– खाड़ी देशों की विकास यात्रा में 30 लाख से ज्यादा भारतीय भी शामिल हैं.

– मोदी ने कहा कि अबू धाबी में सेतु के रूप में मंदिर का निर्माण हो रहा है. यह मानव साझेदारीका बेहतरीन उदाहरण है. अबू धाबी का यह मंदिर बेहद भव्य होगा. इसके लिए मैं यूएइ के प्रिंस का दिल से आभार व्यक्त करता हूं.

– दुबई में बसता है लघु भारत.

– पिछले चार साल में देश का आत्मविश्वास बढ़ा है. निराशा, आशंका और दुविया के दौरे से भी गुजरे. अब भारत विकास की नई ऊचाइंयों को छू रहा है.

आज देश नहीं पूछ रहा कि होगा या नहीं होगा?. आज पूछते हैं कि मोदी जी बताओ कब होगा?

– पहले निराशा के दिन भी हमने देेखें है. आज विश्वास है कि होगा तो अभी होगा.

– भारत की विश्व रैंकिंग में जबरदस्त उछाल आई है.

– दुनिया कह रही है कि 21वीं सदी भारत की सदी है.

– नोटबंदी को गरीब ने सही कदम माना है हालांकि दो सालों से कुछ लोगों की नींद उड़ी हुई है.

– 60 साल से अटकी GST पास हुआ.

– बदलाव आने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. लोगों को अच्छे लगने वाले नहीं फायदे वाले कदम की जरुरत है.

– पीएम मोदी के भाषण खत्म होने के बाद भारत माता की जय के नारे भी लगे.