यूपी के हरदोई जिले से तीन दिन पहले एक खबर सामने आई थी. खबर ये थी की सांप ने खेत में चारा लेने गए एक किसान को डस लिया. जिसके बाद किसान को इतना गुस्सा आया कि उसने उल्टा सांप को काट लिया और सांप मर गया. लेकिन किसान को कुछ नहीं हुआ. खबर मजेदार थी तो वायरल भी हो गयी.

अधिकतर मीडिया वालों ने यही खबर चलाई कि “आदमी ने सांप को काटा और सांप मर गया”. लेकिन ये सच नहीं है.

क्या है सच्चाई-

हरदोई जिले में एक गांव है. नाम है शुक्लापुर. इसी गांव से खबर ये आई थी कि वहां एक सांप ने खेत में चारा लेने गए एक किसान को डस लिया. इससे किसान इतना गुस्सा हुआ कि उसने उल्टा सांप को काट लिया. इससे सांप मर गया, जबकि वो किसान कुछ घंटों बाद ठीक हो गया. जो कि सच नहीं है.

सोनेलाल को जिस सांप ने काटा था. वो अजगर था जिसके अंदर जहर नहीं होता है. सोनेलाल ने खुद बताया कि जब वो खेत में चारा लेने गया, तब उस पर अजगर ने हमला किया. सोनेलाल ने कहा कि उसने अजगर के सिर के पीछे का दो बित्ता हिस्सा छोड़कर उसे चबाया था.

ये खबर जिस तरह शेयर की गयी, उसके हिसाब से यही लग रहा था कि सांप के डसने से सोनेलाल के शरीर में ज़हर फैल गया और जब सोनेलाल ने सांप को काटा, तो सांप ज़हर की वजह से मर गया. रिपोर्ट्स में ऐसा साफ-साफ नहीं लिखा जा रहा है, लेकिन मेसेज यही जा रहा था. जो गलत है. अजगर की मौत उसके सिर कटने से हुई था. क्यों की अजगर में ज़हर नहीं होता है. अजगर अपने शिकार का दम घोंटकर, उसकी हड्डियां तोड़कर उसे मारता है और फिर निगल जाता है.