rape victim news

महाराष्ट्र के एक 34 साल के पुलिस अधिकारी पर आरोप है कि वह रेप पीड़िता (23) के साथ पिछले एक साल से ब्लैकमेल कर रेप कर रहा था जिसके मामले की जांच वह खुद कर रहा था. उसके साथ ब्लैकमेल की शुरुआत तब हुई जब उसने रेप के आरोप से अपने बॉयफ्रेंड सतीश (28) का नाम हटाने की मांग की थी.

क्या है मामला-

महाराष्ट्र में एक जगह है भिवंडी. यहीं का मामला है. श्वेता (बदला हुआ नाम) 3 साल पहले सतीश से मिली थी. वो भिवंडी में अपनी नानी के घर छुट्टियां मनाने गई थी. सतीश की मोबाइल फोन की छोटी सी दुकान है. श्वेता, सतीश की दुकान में जाती थी. फिर दोनों दोस्त बन गए. देखते-देखते दोनों में प्यार हो गया. सेक्स हुआ. सतीश की तरफ से इस वादे के साथ कि वो श्वेता के ही शादी करेगा.

कुछ दिनों बाद श्वेता को पता चला कि सतीश शादीशुदा है और दो बच्चों का बाप है तो उसने उससे दूरी बना ली, लेकिन दोबारा सतीश ने बहला-फुसलाकर संबंध बनाए रखा. 2015-18 के बीच सतीश ने दो बार उसका गर्भपात भी कराया.

कुछ समय बाद सतीश की पुरानी गर्लफ्रेंड राबिया को दोनों के रिश्ते के बारे में पता चला और फिर उसने पीड़िता को धमकाया. राबिया ने उसे घर से बाहर बात करने बुलाया. राबिया ने उसे जूस पीने दिया जिसमें नशीला पदार्थ मिला था. उसके बाद राबिया ने अपने दोस्त सलीम करवी ने श्वेता का रेप किया करवाया. राबिया ने रेप का विडियो बना लिया और श्वेता को ब्लैकमेल करना शुरू किया और उससे 50,000 रुपये मांगे.

श्वेता डर गई और उसने उसे 43 हजार रुपये दे दिए. अवसादग्रस्त श्वेता खडवली नदी में कूदकर आत्महत्या करने की सोच रही थी. उसने यह बात अपनी सहेली को बताई तो उसने उसे हिम्मत बंधाई और पुलिस में शिकायत दर्ज करने की बात कही. इसके बाद पीड़िता ने कुलाबा पुलिस के सहयोग से तीनों के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया. पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया. लेकिन सतीश की गिरफ्तारी के बाद श्वेता पलट गई. उसने पुलिस और कोर्ट में बयान दिया कि सतीश उसका प्रेमी है और उसने रजामंदी से उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया.

सतीश के खिलाफ दर्ज रेप के मामले को वापस लेने के लिए वह शांतिनगर पुलिस से मांग करने लगी. श्वेता ने जब सतीश के नाम की शिकायत का विरोध किया, तो पुलिसकर्मी रोहन गंजारी ने बदले में सेक्स की मांग की. रोहन जबरन श्वेता को एक लॉज में लेकर गया और वहां उसका रेप किया. जबरन एक कागज़ पर दस्तखत करवाया कि श्वेता अपनी मर्ज़ी से सेक्स के लिए राज़ी हुई है. रोहन ने श्वेता के साथ ऐसा एक से अधिक बार किया. जब श्वेता को सतीश का नाम कंप्लेंट से हटता नहीं दिखा, तो तंग आकर वो कोंगांव थाने में रोहन के खिलाफ शिकायत लिखवाने पहुंच गई.

रोहन को भनक लग गई थी कि गीता कोई श्वेता उठाने वाली है. इसलिए वो श्वेता की शिकायत से कुछ दिन पहले ही गोंजारी शहर से भाग गया. उसके परिवार को भी नहीं पता कि वह कहां है.