Pic source: The lallantop
11 मार्च 2014 को छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के दोरनापाल थाना क्षेत्र में एक नक्सली हमला हुआ था. इस हमले में 11 जवान शहीद हो गए लेकिन एक जवान बच गया. जो जवान बचा उनका नाम है मनोज तोमर. लेकिन मनोज आज मौत से भी बुरी जिंदगी बिताने के मजबूर हैं.

दरअसल, मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के तरसमा गांव निवासी सीआरपीएफ जवान मनोज तोमर मार्च 2014 में छत्तीसगढ़ की झीरम घाटी में नक्सली मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल हो गए थे. मुठभेड़ में गोली लगने से मनोज की एक आंख भी खराब हो गई है.

मनोज ने नई दुनिया को बताया कि सीआरपीएफ रायपुर में अनुबंधित नारायणा अस्पताल में उनका इलाज करवा रहा है. गंभीर घायल होने की स्थिति में आंत को पेट में रखने का ऑपरेशन उस समय संभव नहीं था, इसलिए आंत का कुछ हिस्सा बाहर ही रह गया. डॉक्टरों की सलाह पर वे दिल्ली के एम्स भी गए, लेकिन ओपीडी से आगे किसी डॉक्टर को नहीं दिखा पाए.

आज भी मनोज की आंतें उनके पेट के बाहर निकली रहती हैं, जिसे वो पॉलीथिन में लपेटकर जीवन बिताने को मजबूर हैं.

डॉक्टरों का कहना है कि ऑपरेशन करके मनोज की आंत पेट में रखी जा सकती है और वो अच्छी जिंदगी जी सकते हैं. आंख की रोशनी भी लौट सकती है, लेकिन दोनों के इलाज के लिए चाहिए पैसा. 5 से 7 लाख रुपए का खर्च आएगा. लेकिन इतना पैसों का इंतजाम करना मनोज के बस की बात नहीं है.

मनोज के मुताबिक उनकी शिकायत सीआरपीएफ से नहीं है बल्कि सरकार और उसके नियमों से है. नियम कहता है कि वे छत्तीसगढ़ में ड्यूटी के दौरान जख्मी हुए थे इसलिए उनका उपचार अनुबंधित रायपुर के नारायणा अस्पताल में ही होगा. सिर्फ सरकार ही एम्स में आंत के ऑपरेशन और चेन्नई में आंख के ऑपरेशन का इंतजाम करवा सकती है, जो नहीं हो रहा है.

बता दें कि कुछ महीनों पहले देश के गृह मंत्री राजनाथ सिंह की तरफ से मनोज को 5 लाख रुपये की सहायता देने की बात कही गई थी. मगर ये मदद उन्हें आजतक नहीं मिल पाई है. मनोज को देश की सेवा करने का फल मिल रहा है .आज भी मनोज की आंतें उनके पेट के बाहर निकली रहती हैं, जिसे वो पॉलीथिन में लपेटकर जीवन बिताने को मजबूर हैं.

ये भी पढ़े-

सरकारी बैंकों में पैसा नहीं, सरकार का झूठ जमा है
उत्तर प्रदेश के उपचुनाव के बाद राज्यसभा चुनाव में भी बीजेपी को मिलेगी हार
नवरात्रि स्पेशल: मां दुर्गा के इस मंदिर में आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाएंगी
ये हैं महाभारत की सबसे अनोखी तस्वीरें, नहीं देखा तो देख लो..
केजरीवाल आदमी हैं या सड़क जब देखे इनका U-टर्न आ जाता है
इस आसान तरीके से आप भी उठा सकते हैं ‘प्रधानमंत्री आवास योजना’ का लाभ
ये है दुनिया का सबसे शातिर चोर..