मोदी जी के “विकास” जैसे होते हैं पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड

आज कल सोशल मीडिया पर पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड का गुणगान किया जा रहा है लेकिन पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड के नुकसान कोई नहीं बता रहा क्योंकि ये मीडिया बिक चुकी है..(किसने खरीदी है इसका पता चलते हम आपको बता देंगे). फिलहाल, आप ये जानिए की पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड के नुकसान क्या हैं.

1- पत्रकार से डेट करने का मतलब है कि वो आपकी किसी भी बात का ध्यान नहीं रखेगा क्योंकी उसे हर वक्त ख़बर चाहिए होती है. वो आपको आपका मनपसंद खाना भी नहीं खिला सकता. खासकर अगर आपका प्रेमी हिंदी पत्रकार हो क्योंकि बेचारे को तनख्वाह ही उतनी मिलती है जितने में वो 2 वक्त का छोला भटूरा खा सके.

2- भगवान न करे मगर आप कहीं फंस गई हों तो आपका पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड आपके पास सबसे आखिर में पहुंचेगा. इसकी दो वजह है; पहली ये की बेचारे से 9 घंटे बोलकर 12 घंटे काम कराया जाता है और दूसरी वजह से शायद आप डर जाएं लेकिन फिर भी हम आपको बता ही देते हैं. मूसीबत में फसी प्रेमिका की मदद करने से पहले वह उसकी खबर बनाने में ही दिलचस्पी दिखाएगा और शायद ये बात आपको पसंद न आए.

3- अगर आपको अपने परिवार के साथ कहीं जाना है और आप अपने पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड से टिकट को वीआईपी कोटा लगाकर कंफर्म कराने की उम्मीद रखती हों तो आप इस खबर को पढ़ते ही सतर्क हो जाएं क्योंकि हमारे यहां के पत्रकार कुछ-कुछ मोदी जी जैसे हैं, बस फेकना आता है करना नहीं.

4- पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड के नुकसान तो बहुत हैं, लेकिन ये वाला कुछ ज्यादा बड़ा है. पत्रकारों को कभी छुट्टी नहीं मिलती है, क्या संड़े क्या मंड़े. कभी-कभी तो ऐसा भी हो सकता है की आप रात में प्यार के मूड़ में हो और उसके दफ्तर से फोन आ जाए और उसे जाना पड़े. सोचिए क्या होगा फिर.

5- अगर आपने अपने पत्रकार ब्वॉयफ्रेंड को कोई बात बताई है तो आप समस्या में फंस सकती है, क्योंकि जिस दिन उसे खबर नहीं मिली वो उसे ही खबर बना देगा… और आपका ब्रेकअप हो जाएगा. तो क्यों ऐसे रिक्स लेना?

 

नोट: ये सारी बातें हिंदी और आधी इंगलिश वाले पत्रकारों पर ही लागू होती है. अगर आपको कहीं प्योर इंगलिश वाला पत्रकार मिले तो तुरंत लपक ले. उसके अनेक फायदें है.