ये शक्स देख नहीं सकता, फिर भी 2 दिन से श्रीदेवी के घर के बाहर खड़ा था, वजह आपको भी रूला देगी

अपने भांजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने के लिए श्री देवी दुबई गई थी. जहां उनकी मौत हो गई. वजह बताई गई बाथटब में डूबना.

श्रीदेवी आज अनंत की चांदनी में लीन हो गई. मुंबई के विले पार्ले शवदाह गृह में राजकीय सम्मान के साथ श्रीदेवी का अंतिम संस्कार कर दिया गया. इसके लिए तमिलनाडु से पंडितों को बुलाया गया था. पति बोनी कपूर ने श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी. इस दौरान उनकी दोनों बेटियां, बेटे अर्जुन कपूर, भाई अनिल व संजय कपूर, सोनम कपूर और करीबी परिजन मौजूद थे.

वहीं एक और शक्स मौजूद था. नाम है जतिन वाल्मीकि. जतिन देख नहीं सकते हैं. लेकिन फिर भी वो श्रीदेवी के अंतिम यात्रा में शामिल होने आए थे. वजह बेहद इमोशनल है.जतिन पिछले दो दिनों से श्रीदेवी के घर के बाहर खड़े थे. वो उत्तर प्रदेश से आए थे.

जतिन का कहना था की, ‘श्रीदेवी जी ने मेरे भाई के ब्रेन ट्यूमर के ऑपरेशन के लिए हेल्प की थी. उस समय उन्होंने मुझे एक लाख रुपए की मदद की और हॉस्पिटल से भी एक लाख रुपए माफ करवाए. उनकी वजह से मेरा भाई आज ज़िंदा है. मैं कुछ नहीं कर सकता उनके लिए, लेकिन कम से कम उनकी अंतिम यात्रा में शामिल तो हो ही सकता हूं.’